जिले की मंडियों में 215 गेटपास हुए जारी : डीसी यशेन्द्र सिंह

Rewari

रेवाड़ी : मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने सभी उपायुक्तों को निर्देश दिए कि किसानों को मंडियों में अपनी फसल लाने में कोई परेशानी न हो यह सुनिश्चित किया जाएं। साथ ही, मंडियों में गेट पास, कंप्यूटर ऑपरेटर, पेयजल और शौचालय की उचित व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल वीरवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी उपायुक्तों और अधिकारियों के साथ रबी खरीद प्रक्रिया की समीक्षा बैठक की। बैठक में उप-मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला और कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जे पी दलाल भी उपस्थित थे।
सीएम मनोहर लाल ने फसलों की सुगम और समयबद्ध खरीद सुनिश्चित करने हेतु राज्य सरकार की प्रतिबद्धता के बारे में कहा कि जिन आढ़तियों को पिछले खरीद सीजऩ की आढ़त व मजदूरी का भुगतान देरी से हुआ है, उन्हें देरी से हुए भुगतान का समाधान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ब्याज के भुगतान की प्रक्रिया आज से शुरू होगी। खातों को सत्यापन के लिए आढ़तियों के पास भेजा जा रहा है। इस समूची प्रक्रिया के लिए खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग को आवश्यक निर्देश जारी किए जा चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को सुगम व समयबद्ध खरीद सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि एक अप्रैल से मंडियों में गेहूं की खरीद शुरू हो चुकी है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आढ़तियों के साथ निरंतर वार्ता की जानी चाहिए और यह सुनिश्चित करें कि उन्हें किसी तरह की समस्या का सामना न करना पड़े।

वीसी में उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने मुख्यमंत्री श्री मनोहरल लाल को अवगत कराया कि मंडियों में खरीद प्रक्रिया सुचारू रूप से जारी है तथा वीरवार को 215 गेट पास जारी किए गए है। रेवाड़ी, कोसली व बावल अनाज मंडियों में कोई परेशानी नहीं है।

उल्लेखनीय है कि इस तरह की बैठक हर सप्ताह के प्रत्येक गुरुवार को सभी उपायुक्तों के साथ बातचीत करने के लिए शुरू की गई है ताकि विकास के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की जा सके।

वीसी में जिला नगर आयुक्त दिनेश यादव, एसडीएम रेवाड़ी रविन्द्र यादव, सीटीएम रोहित कुमार, डीआरओ विजय यादव, डीएफएससी अशोक रावत, डीडीपीओ एचपी बंसल, डीएसपी हंसराज, कार्यकारी अभियंता नगर परिषद हेमन्त, कार्यकारी अभियंता पंचायती राज दिवाकर, मार्किट कमेटी सचिव सत्यप्रकाश, उपमंडल कृषि अधिकारी दीपक, डीपीएम पिंकी, डीएम हैफेड संतराम, कार्यकारी अधिकारी नगर परिषद अभय सिंह, नगर पालिका बावल व धारूहेडा के सचिव समयपाल व अनिल कुमार सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहें।