अंकुर प्रजापति के हत्यारों का डेढ माह बाद भी कोई सुुराग ने मिलने पर शहरवासियों में रोष

SIRSA

शहरवासियों ने कैंडल मार्च निकालकर की हत्यारों की गिरफ्तार करने की मांग

hindustan1st news,सिरसा : शहर के वार्ड नंबर 3 की गली प्रकाशों महंत वाली में घर में घुसकर डकैती करने के बाद हुए अंकुर प्रजापित हत्याकांड को डेढ़ माह बीत चुका है। लेकिन पुलिस अभी भी महावीर प्रजापति के घर डकैती करने वाले और अंकुर प्रजापति की हत्या करने वाले हत्यारों का कोई पता नहीं लगा पाई है। जिसके चलते शहरवासियों में पुलिस के प्रति गहरा रोष पनप रहा है। अभी तक अंकुर प्रजापति के हत्यारों को पकड़ने के लिए पुलिस प्रशासन की ओर से जिन ऐंगलों से जांच की गई है, उसके अभी तक कोई परिणाम नहीं मिले है। जिसके रोषस्वरूप शहरवासियों ने वीरवार को अंकुर प्रजापति व महावीर प्रजापित के परिवारजनों ने शहर की धार्मिक, सामाजिक और राजनैतिक संस्थाओं के साथ शहर में कैंडल मार्च निकाला।

कैंडल मार्च शहर के खुह वाला बाजार से शुरू होकर शहर की सब्जी मंडी, वाटर वक्र्स रोड, पुराना पंजरत्न सिनेमा रोड, पंजाब बस स्टैंड, नया थाना रोड होकर कालांवाली पुलिस स्टेशन पहुंचा। इस दौरान शहरवासियों ने अंकुर प्रजापति की आत्मिक शांति को लेकर दो मिनट का मौन रखा और पुलिस स्टेशन की दीवारों पर मोमबत्तियां लगाकर अपनी नाराजगी व्यक्त की।

कैंडल मार्च के दौरान मृतक अंकुर प्र्रजापति के पिता भाग प्रजापति, चाचा श्रवण प्रजापति, चाचा जगदीश प्रजापति, पीड़ित महावीर प्रजापति, ओमप्रकाश लुहानी, पार्षद अमृतपाल बोबी, पार्षद प्रतिनिधि महेश झोरड, सुनील अहलावत, एडवोकेट राजीव बिट्टा, मंगत नागर, लखबीर सोढी, सुखा सिंह, रमेश प्रजापति, नरेश गर्ग, जगसीर सिंह गिल, भोला जगमालवाली, फतेह सिंह, सन्नी शर्मा व अन्य ने बताया कि शहर के वार्ड नंबर 3 में महावीर प्रजापति के घर पर हुई डकैती के बाद पीड़ित परिवार की मदद के लिए जा रहे करीब 20 वर्षीय अंकुर प्रजापति की हथियारबंद लुटेरों की गोली मारकर हत्या कर दी थी। लेकिन घटना के करीब डेढ माह बीतने के बाद भी महावीर प्रजापति के घर डकैती करने वाले और अंकुर प्रजापति की हत्या करने वाले हत्यारों का कोई पता नहीं लगा पाई है। जिसके चलते शहरवासियों में पुलिस के प्रति गहरा रोष है।

अंकुर प्रजापति के परिवारजनों व शहरवासियों की ओर से थाने के समक्ष धरना लगाकर हवन यज्ञ करने पर पुलिस प्रशासन की ओर से अंकुर प्रजापति के हत्यारों को गिरफ्तार करने के लिए 5 फरवरी का समय मांगा था। लेकिन 5 फरवरी के बाद भी एक माह का समय बीत चुका है। लेकिन अंकुर प्रजापति के हत्यारे अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। इतना ही नहीं कालांवाली क्षेत्र में अपराधियों के हौंसले इतने बढ़ गए है कि वे हर दिन कोई न कोई चोरी, लूट, छीना-झपटी, हत्या जैसी अपराधिक गतिविधियों को बेखौफ होकर अंजाम दे रहे है। शहर में हर दिन बढ़ रही अपराधिक गतिविधियों के चलते शहरवासियों में डर का माहौल है और शहरवासी अपने आपको असुरक्षित महसूस कर रहे है। उन्होंने पुलिस प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि अंकुर प्रजापति के हत्यारों को जल्द गिरफ्तार नहीं किया गया तो शहरवासियों की ओर से जिलावासियों के सहयोग से पुलिस स्टेशन को ताला लगाकर घेराव किया जाएगा।