किसानों पर हुए लाठीचार्ज पर चिरंजीव राव ने उपायुक्त को दिया ज्ञापन

Rewari

रेवाड़ी : मुख्यमंत्री के खिलाफ रोहतक में शांति पूर्वत तरीके से प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों पर हुए लाठीचार्ज के लिए कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में जमकर उबाल देखने को मिल रहा है। बुधवार को सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने रेवाड़ी विधायक चिरंजीव राव के नेतृत्व में एकजुट होकर कृषि कानून वापस लेने की मांग पर जमकर नारेबाजी की। इस दौरान बीते दिनों रोहतक में प्रदर्शनकारियों पर हुए लाठीचार्ज की जमकर निंदा की और भाजपा सरकार के खिलाफ रोष प्रकट किया।

सभी कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में राज्यपाल के नाम डीसी को ज्ञापन सौंपने के बाद चिरंजीव राव ने कहा कि इस सरकार ने अब सभी हदें पार कर दी है। आने वाले समय में अब जनता सरकार के किए जा रहे वादाखिलाफीयों के खिलाफ आवाज बुलंद करके इस सरकार को सबक जरूर सिखाएगी। राव ने कहा कि ना तो कोई किसान और ना ही कांग्रेस का कार्यकर्ता भाजपा के द्वारा लागू किए गए किसान कानून को नहीं मानता।

उन्होंने वादा किया कि कांग्रेस की सरकार बनते ही इस कानून को पूरी तरह से रद्द कर दिया जाएगा। चिरंजीव राव ने मांग की है कि गत 3 अप्रैल को शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे किसानों पर बर्बरतापूर्ण लाठीचार्ज करने के आदेश देने वाले अधिकारियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई के आदेश दिए जाए। किसानों के विरुद्ध जो कोई भी व्यक्ति या नेता विवादित बयान देता है या अमर्यादित भाषा का प्रयोग करता है उसके खिलाफ तुरंत कार्रवाई के लिए प्रदेश सरकार को आदेश जारी करें और हरियाणा की भाजपा-जजपा सरकार को यह नसीहत दें कि वह किसानों का अस्तित्व समाप्त करने वाले तीन काले कानूनों को रद्द करवाने के लिए केंद्र की मोदी सरकार पर दबाव बनाएं।