प्रज्ञा: विदेशी महिला से पैदा हुआ व्यक्ति राष्ट्रवादी नहीं हो सकता, जीतू पटवारी ने यूं दिया जवाब

Politics

भोपाल : भोपाल की सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के रविवार को दिए गए एक बयान ने नए विवाद को जन्म दे दिया है। भाजपा प्रदेश कार्यालय में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में पहुंचीं साध्वी ने कांग्रेस द्वारा चीन के मामले में खड़े किए जा रहे सवाल पर मीडिया से कहा कि विदेशी महिला के गर्भ से जन्मा कोई भी व्यक्ति राष्ट्र भक्त नहीं हो सकता। चाणक्य ने कहा था कि इस भूमि का पुत्र ही देश की रक्षा कर सकता है। यहां साध्वी का इशारा सोनिया गांधी व राहुल गांधी पर था।

साध्वी प्रज्ञा यहीं नहीं रकी बल्कि उन्होंने कहा कि ‘कांग्रेस पार्टी में न बोलने की सभ्यता है न संस्कार और न ही देश भक्ति है। मैं कहती हूं कि देश भक्ति आएगी भी कहां से, जब दो-दो देश की सदस्यता लेकर रहेंगे।’ इसके अलावा सांसद ने कहा कि चीन से निपटने के लिए देश तैयार है। केंद्र सरकार चीन को पूरी ताकत से जवाब देगी। भारत की एक इंच जमीन पर भी कोई कब्जा नहीं कर सकता।

चीन, बांग्लादेश, पाकिस्तान, अफगानिस्तान समेत अन्य कई देशों का उदय ही भारत से हुआ है। भारत का पराक्रम व इतिहास पूरा विश्व जानता है। जो देश भारत को आंख दिखा रहे हैं, उनकी हमारे देश के वीरों के सामने कोई हैसियत ही नहीं है। सालों पहले चीन ने जो छल हमारे देश के साथ किया था, उसका जवाब अब दिया जाएगा।

दिग्विजय सिंह पर साधते हुए जनवरी के महीने में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था कि पीएम नरेंद्र मोदी व गृह मंत्री अमित शाह की ओर से जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद जाकिर नाइक से समर्थन मांगने के बयान में कोई सत्यता नहीं है। जिसने भगवा को आतंकवाद कहा, भोपाल की जनता ने उसे सजा दे दी। साध्वी ने नाम लिए बिना कहा कि जो भगवा को आंतकवाद कहते हैं, उनकी वंशावली बता दूं तो लोग उनको राजा कहना बंद कर देंगे। वे कुछ न कुछ विवादित बोलते रहते हैं। मैं ठाकुर हूं, इसलिए दूसरे ठाकुर के बारे में सब जानती हूं।

वहीं, कांग्रेस के मीडिया सेल के प्रभारी और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने भी प्रज्ञा ठाकुर का नाम लिए बिना उन पर तंज करते हुए ट्वीट किया कि कोई भी देशभक्त आतंकवादी नहीं हो सकता है। कोई भी गोडसे भक्त देशभक्त नहीं हो सकता है। जाकी रही भावना जैसी, प्रभु मूरत देखी तिन तैसी….।

पटवारी अप्रत्यक्ष तौर पर 2008 में महाराष्ट्र के मालेगांव बम विस्फोट मामले के आरोपियों में से एक प्रज्ञा ठाकुर का उल्लेख कर रहे थे।

खबरों को मोबाइल में पढ़ने के लिए डाऊनलोड करें Hindustan1st का मोबाइल ऐप

राजनीति की खबरों से जुड़े रहने के लिए यहाँ click करें