कोरोना प्रोटोकॉल ना मानने पर फ्लाइट से उतारे जाएंगे यात्री: DGCA

National

नई दिल्ली : नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने कहा है विमानों में यात्रा के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया जाए। डीजीसीए ने कहा है कि मास्क पहनने और दूसरे नियमों में किसी भी तरह की ढील ना की जाए। अगर कोई यात्री विमान के अंदर ठीक से मास्क नहीं पहनता है या कोरोना नियमों को तोड़ता है तो ऐसे यात्रियों को यात्रा की इजाजत ना दी जाए।

डीजीसीए ने कहा है कि कोई यात्री बार-बार चेतावनी के बावजूद प्रोटोकॉल का उल्लंघन करता है तो यात्री को आगे के लिए भी ब्लैकलिस्ट किया जाए। साथ ही नाक के नीचे मास्क पहनने या एयरपोर्ट पर उतरते ही मास्क उतारने वालों पर भी कार्रवाई की बात कही गई है। ऐसे लोगों को एयरपोर्ट पर मौजूद सुरक्षा अधिकारियों को सौंपने की बात कही गई है।

हाल ही में दिल्ली हाईकोर्ट ने भी फ्लाइट में यात्रा करने के दौरान मास्क ना लगाने वालों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर डीडीसीए को निर्देश जारी किए थे।कोर्ट ने कहा था कि जो लोग मास्क नहीं पहन रहे हैं या सही से मास्क नहीं लगा रहे हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। ऐसे यात्रियों को प्लेन से फौरन उतार दिया जाए और उन्हें नो फ्लाई लिस्ट में डाल दिया जाए। कोर्ट ने कहा है कि ये सुनिश्चित किया जाए कि फ्लाइट में यात्री सही प्रकार से मास्क पहनें न कि सिर्फ खानापूर्ति के लिए।

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बीते कुछ दिनों एक बार फिर तेजी से बढ़े हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने शनिवार को कोरोना वायरस से जुड़े आंकड़े जारी करते हुए बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान देश में 24,882 नए मरीज मिले हैं। इसके अलावा इस दौरान 140 लोगों की मौत कोरोना वायरस के कारण हुई है। नए मरीज मिलने के बाद देश में कोरोना केस बढ़कर 1,13,33,728 और मृतकों की संख्या 1,58,446 हो गई है। दैनिक मामलों में बढ़ोत्तरी के चलते कोरोना वायरस के एक्टिव केस भी बढ़कर 2,02,022 हो गए हैं।