आईएमए में जेंटलमैन कैडेट्स के बीच मारपीट, सेना ने दिए जांच के आदेश

National

देहरादून : भारतीय सैन्य अकादमी में ट्रेनिंग कर रहे जेंटलमैन कैडेट्स के दो पक्षों के बीच मारपीट का मामला सामने आया है। मारपीट के दौरान खूब लात-घूंसे भी चले। जिस वजह से कई कैडेट को चोटें भी आई हैं। वैसे घटना 3 मार्च की बताई जा रही, लेकिन अब मामले की गंभीरता को देखते हुए आईएमए प्रशासन ने अनुशासनहीनता बरतने वाले आरोपी कैडेट्स के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। इस मारपीट में दूसरे देशों यानी मित्र राष्ट्रों के कैडेट भी शामिल बताए जा रहे हैं।

वहीं घटना की जानकारी मिलते ही तत्काल आईएमए प्रशासन ने दोनों पक्षों को शांत कराने के साथ ही नियमानुसार जांच के आदेश दे दिए। सूत्रों के मुताबिक मामूली कहासुनी के बाद शुरू हुआ ये मामला 3 मार्च की देर रात मारपीट में तब्दील हो गया। जिसमें 4 कैडेट्स को चोटें भी आई हैं। वैसे मारपीट दो समूहों में हुई, लेकिन उसके बाद आईएमए के अंदर कैडेट्स की भीड़ लग गई।

प्री-कमीशन ट्रेनिंग के दौरान का मामला
आईएमए प्रशासन ने मारपीट की पुष्टि करते हुए बताया कि बुधवार रात को प्री-कमीशन ट्रेनिंग के दौरान जेंटलमैन कैडेट्स में मारपीट हुई थी। उन्होंने इस पूरे मामले को गंभीर मानते हुए जांच बैठा दी है। जांच समिति की रिपोर्ट आने का इंतजार है, उसके बाद आरोपी कैडेट्स पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

1932 को ब्रिटिश हुकूमत के दौरान स्थापित किए गए आईएमए में भारत के साथ-साथ कई मित्र राष्ट्रों के जेंटलमैन कैडेट्स भी सेना की कठिन ट्रेनिंग लेने आते है। आईएमए ब्रिटिश काल से ही अपने अनुशासन, कड़े नियम और विश्व के सबसे जांबाज सैनिक, अफसरों को तैयार करने के मामले में कई इतिहास रच चुका है।