वीडी शर्मा- कमलनाथ ने केंद्र में मंत्री रहते हुए चीन को फायदा पहुंचाया

Politics

भोपाल : भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कांग्रेस और उसके नेताओं पर चीन को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया है। शर्मा ने कहा कि भाजपा इसके विरोध में रविवार को प्रदेशभर में प्रदर्शन कर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का पुतला दहन करेगी। प्रदेश अध्यक्ष शनिवार को भोपाल में पार्टी के प्रदेश कार्यालय में मीडिया से चर्चा कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने गांधी परिवार और कांग्रेस को फायदा पहुंचाने के लिए चीन से सांठगांठ की। चीनी कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए देश और प्रदेश के छोटे कारीगरों, कारोबारियों की रोजी-रोटी छीन ली। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का यह कृत्य देश के प्रति अपराध और गद्दारी है। भारतीय जनता पार्टी कमलनाथ के चेहरे से नकाब हटाने के लिए 28 जून को पूरे प्रदेश में विरोध-प्रदर्शन करेगी और उनके पुतले जलाएगी।

कमलनाथ ने कहा- जनता को गुमराह कर रही है भाजपा
इधर, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि भाजपा वास्तविक मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए हमेशा से ही झूठ का सहारा लेती है। झूठे मामलों को उठाकर जनता को गुमराह और भ्रमित करने का काम शुरू से ही करती आई है। ऐसे मामले जो झूठे है, जिनका कोई आधार नहीं है, कोई प्रमाण नहीं है, जो वर्षों पुराने हैं, जिनका आज से कोई लेना-देना नहीं है। उसे भाजपा झूठी हवा देने में माहिर है।

ऐसा था तो इतने वर्षों से भाजपा कहां थी, चुप क्यों थी? जो खुद वर्षों से चीन से दोस्ती निभाते आए हैं, नियमित यात्राएं करते आए हैं, दोस्ती का दंभ भरते आए हैं, वो बचने के लिए आज हम पर झूठे आरोप लगा रहे हैं? कमलनाथ ने कहा कि अब हम भारी भरकम बिजली बिलों से जनता को राहत देने की मांग को लेकर प्रदेशव्यापी आंदोलन करने जा रहे हैं।

बर्बाद हो गए कारीगर, छोटे कोरोबारी
शर्मा ने कहा कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने केंद्र सरकार में वाणिज्य मंत्री रहते हुए गांधी परिवार को फायदा पहुंचाने के लिए चीन के साथ जिस प्रकार की डीलिंग की, वह दुर्भाग्य का विषय है। उन्होंने चीन के साथ मिलकर ऐसे उत्पादों पर आयात शुल्क में 40 से 200 प्रतिशत तक छूट दे दी, जो देश में ही उपलब्ध थे। इससे देश में लकड़ी, मिट्टी, बांस के छोटे-छोटे काम करने वाले कारीगरों, छोटे व्यापारियों की आजीविका छिन गई। कुशल कारीगर जो घर में रहकर बर्तन, दोने-पत्तल, कृषि उपकरण, अगरबत्ती बनाने का काम करते थे, वे कमलनाथ की इस करतूत के कारण अचानक बेरोजगार हो गए। देश और प्रदेश के कई लघु और कुटीर उद्योग बर्बाद हो गए।

शर्मा ने कहा कि प्रदेश में शिवराज सरकार ने तीन माह पहले सत्ता में आते ही गरीबों के कल्याण के लिए 38 हजार करोड़ रूपए दे दिए। केंद्र सरकार द्वारा 20 लाख करोड़ रूपए का पैकेज भी दिया गया। इस बात के लिए सभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना कर रहे हैं। लॉकडाउन के दौरान गरीब जनता के हितों का ध्यान रखते हुए मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री ने जिस प्रकार की सहायता उपलब्ध कराई, वह सराहनीय है।

कार्यकर्ताओं को नसीहत- 20 से ज्यादा कार्यकर्ता एकत्र न हों
उन्होंने कहा कि कांग्रेस की इस करतूत के विरोध में भाजपा कल पूरे प्रदेश में विरोध प्रदर्शन करेगी। कमलनाथ के के बारे में सच्चाई भी आम लोगों को बताई जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट को देखते हुए कार्यकर्ताओं से कहा गया है कि वे विरोध-प्रदर्शन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखें। एक स्थान पर 20 से ज्यादा कार्यकर्ता एकत्र न हों। इसके अलावा अपने मुंह पर मास्क भी अनिवार्य रूप से लगाकर रखें।

खबरों को मोबाइल में पढ़ने के लिए डाऊनलोड करें Hindustan1st का मोबाइल ऐप

राजनीति की खबरों से जुड़े रहने के लिए यहाँ click करें